Latest


करोना की दहशत 31 मार्च तक बढ़ाया LockDown का समय




पिछले कुछ दिनों से बड़ रही करोना वायरसक की दहशत का मसला दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है, जिसके चलते ही जहां पहले सिर्फ एक दिन यानि कि 22 मार्च का LOCKDOWN रखने का आदेश जारी किया गया था वहीं इस को गंभीरता से लेते हुए 31 मार्च तक कर दिया गया है।

क्या होता है लॉकडाउन ?

लॉकडाउन एक इमर्जेंसी व्यवस्था है जिसके तहत निजी प्रतिष्ठानों, निजी कार्यालयों एवं सार्वजनिक परिवहन को पूर्ण रूप से बंद कर दिया जाता है.

यानी लोगों के पास अपने घरों से निकलने की कोई ख़ास वजह होनी चाहिए.

केंद्रीय मंत्रालय की प्रेस कॉन्फ़्रेंस में रविवार का बताया गया कि ‘लॉकडाउन से लोगों को थोड़ी असुविधा ज़रूर होगी, लेकिन इसके पीछे जो नीयत है, उसे समझने की ज़रूरत है, यह सब अस्थाई है और महामारी से बचने के लिए इस तरीक़े को पूरी दुनिया अपना रही है.’

यूँ तो राजस्थान, महाराष्ट्र, पंजाब और कर्नाटक में शनिवार को ही प्रदेश के अधिकांश क्षेत्र में नियमित लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई थी.

लेकिन रविवार शाम 22 राज्यों में आंशिक लॉकडाउन के आदेश आये.

इसके तहत दिल्ली, केरल और बिहार सोमवार सुबह 6 बजे से पूरी तरह बंद किये जा रहे हैं.

लॉकडाउन के दौरान क्या-क्या बंद रहेगा

सार्वजनिक परिवहन बंद रहेगा. पर कुछ राज्यों ने कहा है कि 25% सरकारी बसें चलेंगी.

सभी दुकानें, बड़े स्टोर, फ़ैक्ट्रियाँ, वर्कशॉप, दफ़्तर, गोदाम, साप्ताहिक बाज़ार बंद रहेंगे.

अगर किसी ज़िले की सीमा दूसरे राज्य से मिलती है, तो उसे सील किया जाएगा. यानी बॉर्डर सील होंगे.

एक राज्य से दूसरे राज्य को जोड़ने वाली बस और रेल सेवाएं रद्द कर दी जाएंगी. कंस्ट्रक्शन का काम रोक दिया जाएगा.

सभी धार्मिक एवं सामाजिक कार्यक्रम रद्द कर दिये जाएंगे. लोगों से अपील होगी कि वे घरों में ही रहें.

और ये सारी कवायद लोगों को एक-दूसरे के संपर्क में आने से रोकने के लिए ही की जा रही है.

लॉकडाउन में खुला क्या-क्या रहेगा

भारत सरकार के अनुसार लॉकडाउन के दौरान पुलिस थाने, अस्पताल, अग्नि शमन विभाग, जेल, महत्वपूर्ण सरकारी दफ़्तर, खाद्यान एवं किराने की सरकारी दुकानें खुली रहेंगी.

लॉकडाउन के दौरान जीवन के लिए आवश्यक चीजें लेने की अनुमति होती है. इसलिए कुछ सुविधाओं को इसकी परिधि से बाहर रखा जाता है.

जैसे: बिजली-पानी, इंटरनेट, बैंकिंग एवं एटीएम की सुविधा जारी रहेगी. पोस्ट ऑफ़िस खुले रहेंगे. प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया को काम करने दिया जाएगा.

पेट्रोल पंप और सीएनजी या एलपीजी पंप खुले रहेंगे. दवाओं की दुकानें खुली रहेंगी. डेयरी एवं डेयरी से संबंधित प्रतिष्ठान खुले रहेंगे.

किराना स्टोर से खाने-पीने का सामान ले सकेंगे. अधिकांश राज्य सरकारों आदेश दिया है कि जीवन के लिए ज़रूरी सामानों को अपने निकटतम स्थानों से ख़रीदें.

साथ ही यह भी कहा गया है कि इन आदेशों की अवमानना करने वालों के ख़िलाफ़ क़ानूनी कार्रवाई होगी.

अगर बहुत ज़रूरी हो तो लॉकडाउन में निजी वाहन का प्रयोग किया जा सकता है. हालांकि बिना वजह बाहर घूमने पर सरकार कार्रवाई कर सकती है.आपात स्थिति में एंबुलेंस को भी बुला सकते हैं.

 

 

करोना वायरस से डरें नही बचाव करें, करोना वायरस की आड़ में कुछ लोग Fake संदेश सोशल मीडिया पर वायरल कर रहे है, हलचल टुडे न्यूज़ पोर्टल सभी से अपील करता है कि कृप्या ऐसे झूठे संदेश फैला कर लोगों में डर का माहौल ना बनाएं। धन्यवाद